व्हाट्सऐप को विश्वसनीयता बचाने के लिए लेना पड़ा अखबारों का सहारा

द्वारा Digit Hindi | पब्लिश किया गया 11 Jul 2018
HIGHLIGHTS
  • व्हाट्सऐप ने कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं और कहा है कि कोई भी मैसेज आगे भेजने से पहले इनका ध्यान रखा जाए।

व्हाट्सऐप को विश्वसनीयता बचाने के लिए लेना पड़ा अखबारों का सहारा

Whatsapp has taken help from newspaper: सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सबसे ज्यादा चलने वाला ऐप व्हाट्सऐप का हाल थोड़ा बेहाल है। क्योंकि फेक मैसेज और अफवाहों की वजह से देशभर में सामने आ रही हिंसक घटनाओं  के बाद मोदी सरकार ने व्हाट्सऐप को चेतावनी दी थी जिसके बाद वॉट्सऐप नें छेड़ दी है जंग और अखबारों का साहारा लेकर एक विज्ञापन से जारी किए कुछ दिशा-निर्देश।

गौरतलब है कि व्हाट्सऐप फैलाये जा रहे फेक न्यूज कि वजह से सरकार और प्रशासन भी परेशान हैं, बता दें कि बीते कुछ दिनो में सोशल मीडिया पर फेक न्यूज के चलते कई निर्दोश लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। फेक न्यूज के चलते देशभर में फैले बच्चा चोर गिरोह के अफवाह से त्रिपुरा में 2 लोगों को और महाराष्ट्र में 5 लोगों को भीड़ ने मौत के हवाले कर दिया था।

व्हाट्सऐप पर फेक न्यूज रोकने के लिये सरकार की ओर से भी कई कदम उठाये गए
थे लेकिन इसका कोई खास असर नहीं दिखा. वहीं फेक न्यूज से निपटने के लिये अखबारो में विज्ञापन देकर एक तरह से व्हाट्सऐप ने यह भी साबित कर दिया कि व्हाट्सऐप को भी अपने ही प्लेटफॉर्म पर अब ज्यादा भरोसा नहीं रहा। नहीं तो जो विज्ञापन जारी किया गया है उसके बजाय एक क्लिक में एक मैसेज भेजकर भी करोड़ों लोगों तक ये संदेश पहुंचाया जा सकता था । बरहाल अखबारों के माध्यम से व्हाट्सऐप ने लोगों को विज्ञापन देकर ये अपील की है कि कोई भी संदेश बिना सोचे समझे नहीं बढ़ाएं जिससे किसी को कोइ तकलीफ हो।
 
व्हाट्सऐप की ओर से जारी किये गये दिशा-निर्देश में ये निर्देश शामिल हैं, Forwarded मैसेज से सावधान रहें।, ऐसी जानकारी की जांच करें जिस पर यकीन करना मुश्किल हो, मैसेज में मौजूद फोटो को ध्यान से देखें और समझे, मैसेज और वि़डियो को अन्य प्लेटफार्म पर भी चेक करें, आप जो देखना चाहते हैं उसे नियंत्रित कर सकते हैं, ऐसी जानकारी या तथ्यों पर सवाल उठाएं जो आपको परेशान करती हो, ऐसे संदेशों से बचें जो थोड़े अलग दिखते हों, लिंक भी चेक करें, सोच- समझकर संदेश को दुसरों तक सेंट करें और झूठी खबरें अक्सर फैलती हैं उनसे सावधान रहे और सावधान करें। 

Digit Hindi
Digit Hindi

Email Email Digit Hindi

Follow Us Facebook Logo Facebook Logo

About Me: Ashwani And Aafreen is working for Digit Hindi, Both of us are better than one of us. Read the detailed BIO to know more about Digit Hindi Read More

Tags:
whatsapp whatsapp fake news fake news messaging app
Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements

LATEST ARTICLES सारे पोस्ट देखें

Advertisements
DMCA.com Protection Status