Install App Install App

क्यों रिलायंस जियो से बेहतर है एयरटेल...

द्वारा Team Digit | पब्लिश किया गया 02 Nov 2016
क्यों रिलायंस जियो से बेहतर है एयरटेल...
HIGHLIGHTS
  • जियो के यूनिक वेलकम ऑफर ने बाज़ार में आते ही हंगामे की शुरूआत की थी, इस ऑफर के तहत मिल रहे फ्री वॉयस और डाटा ने तो मानो लोगों को बड़ी संख्या में अपनी ओर आकर्षित किया और इसके अलावा अन्य टेलीकॉम कंपनियों को भी प्रतिस्पर्धा के लिए निमंत्रण दिया.

जियो के यूनिक वेलकम ऑफर ने बाज़ार में आते ही हंगामे की शुरूआत की थी, इस ऑफर के तहत मिल रहे फ्री वॉयस और डाटा ने तो मानो लोगों को बड़ी संख्या में अपनी ओर आकर्षित किया और इसके अलावा अन्य टेलीकॉम कंपनियों को भी प्रतिस्पर्धा के लिए निमंत्रण दिया.

इसे भी देखें: [Hindi - हिन्दी] Sony Alpha 68 Camera Unboxing in Hindi Video

जैसे ही मुकेश अम्बानी ने अपने नए वेंचर की घोषणा की जिसमें फ्री डाटा के साथ फ्री वॉयस और फ्री सिम को मिलाकर एक शानदार पैक बनता है. इस शानदार पैक ने पिछले कुछ समय में टेलीकॉम बाज़ार में मनो सनसनी सी मचा रखी है और ये पैक दूसरे टेलीकॉम ऑपरेटर्स को इस बाद के लिए भी न्योता दे रहा है कि वह आये और इससे प्रतिस्पर्धा करें.

इस वेलकम या यूनिक ऑफर के तहत आपको 31 दिसम्बर 2016 तक फ्री डाटा और वॉयस मिलने वाला है. हालाँकि ये बाद सच है कि जियो ने बाज़ार में आते ही हंगामा मचाया है लेकिन इसमें पहले दिन से ही कुछ खामियां है जैसे आपको इसमें बढ़िया कनेक्टिविटी नहीं मिल रही है. सेल के बाद की सर्विस यानी आफ्टर सेल सर्विस, और बहुत कुछ जैसे आपको अन्य टेलीकॉम ऑपरेटर्स जैसे एयरटेल, वोडाफ़ोन और आईडिया से मिल रही है. आइये जानते हैं ऐसे कुछ कारणों के बारे में जो एयरटेल को जियो से बेहतर बनाते हैं. ये महज़ आजकल यानी हाल फिलहाल की ही बात है. इसे भविष्य में शायद सही न माना जाए.

डाटा कनेक्टिविटी:

अपने लॉन्च के समय रिलायंस ने कहा था कि वह यूजर्स को बेस्ट डाटा स्पीड देगा. और ऐसा हुआ भी लेकिन महज़ कुछ ही दिनों के लिए. उसके बाद की स्थिति सभी जानते है. और अब ये स्पीड 0.4Mbps से 5Mbps तक ही रह गई है. अगर अब देखें तो एयरटेल आपको बढ़िया डाटा स्पीड दे रहा है.

यूजर्स की सुविधा व्यवस्था:

अगर आपको जियो से जुड़ी किसी भी सहायता के लिए जियो केयर से संपर्क करना हो तो यह आपके लिए काफी मुश्किल हो सकता है. इसमें 15 मिनट और उससे भी अधिक का समय लग सकता है. इसका एक कारण यह भी है कि यूजर्स की संख्या निरंतर बढ़ती जा रही है. पिछले 7 दिनों से से हम इनसे संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन हमें लगभग 15-20 मिनट के इंतज़ार के बाद ही कोई जवाब मिल रहा है, तो आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि आपको कितनी परेशानी का सामना करना पड़ रह होगा, इसके अलावा हमारे फेसबुक पर निरंतर जियो से जुड़े सवाल आते रहते हैं जो जियो की सर्विस, और सिम के एक्टिवेट होने से लेकर, डाटा की स्पीड से जुड़े होते हैं तो यहाँ हम कह सकते हैं कि हालाँकि रिलायंस जो कहा वो किया लेकिन लोगों को उसका कितना लाभ हो रहा है और किस प्रकार हो रहा है ये दूसरी बात है.

फ्री सिम:

इसके अलावा अगर आप किसी तरह की शिकायत करना चाहते हैं तो इसके लिए भी कोई समाधान नहीं है. अगर आपको सिम नहीं मिल रहा है जैसा कि कहा गया है कि आपको सिम फ्री मिलेगा फिर भी कुछ लोग इसके लिए पैसा की डिमांड कर रहे हैं. तो अगर आप इसके लिए शिकायत करना चाहते हैं तो इसके लिए भी कोई सुविधा नहीं है. हालाँकि एक अनऑफिसियल वेबसाइट है जिसका कहना है कि उसे अगर Rs. 199 दिए जाए तो वह आपके घर तक जियो की सिम को पहुंचा देगी. तो ऐसे न जाने कितने ही मामले हैं जो इस ओर इशारा करते हैं लेकिन इनकी शिकायत के लिए कोई जगह नहीं है.  

तो इन सब चीजों को देखते हुए कहा जा सकता है कि एयरटेल आपको इससे बेहतर सेवा दे रहा है. हालाँकि पैक महंगे हो सकते हैं लेकिन आपको इसे इस्तेमाल करने में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो रही है, जो आपको जियो को इस्तेमाल करने में आ रही है.

इसे भी देखें: रिलायंस Jio अपने LYF स्मार्टफ़ोन यूजर्स को 1 साल के लिए फ्री दे सकता है 4G डाटा

इसे भी देखें: रिलायंस जिओ प्रीव्यू ऑफर: अब सोनी, विडियोकॉन और सैंसुई के 4G फोंस पर हुआ उपलब्ध

Team Digit
Team Digit

Email Email Team Digit

Follow Us Facebook Logo Facebook Logo Facebook Logo

About Me: All of us are better than one of us. Read the detailed BIO to know more about Team Digit Read More

Install App Install App
Tags:
4G Jio Reliance telecommunication VoLTE reliance jio reliance jio reliance jio airtel idea vodafone bsnl 4g diwali news tech news रिलायंस जियो एयरटेल वोडाफ़ोन बीएसएनएल आईडिया सेलुलर
Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements

LATEST ARTICLES सारे पोस्ट देखें

Advertisements
DMCA.com Protection Status