भारतीय स्टार्ट-अप होमफूडी के साथ जुड़े 250 से अधिक होम शेफ

द्वारा Press Release | पब्लिश किया गया 11 Jul 2020
भारतीय स्टार्ट-अप होमफूडी के साथ जुड़े 250 से अधिक होम शेफ
HIGHLIGHTS

भारत में निर्मित यह स्टार्टअप 1 लाख से अधिक होम शेफ्स को देगा स्व-रोज़गार के अवसर

होमफूडी की शुरूआत के बाद से इससे जुड़े शेफ की संख्या तेज़ी से बढ़ी है और आज यह संख्या 250 के आंकड़े को पार कर गई है

Advertisements

Working from home?

Don’t forget about the most important equipment in your arsenal

Click here to know more

2019 में शुरू हुआ होमफूडी घरेलू शेफ के द्वारा बनाए गए घर के खाने के लिए मोबाइल ऐप्लीकेशन है, जो समाज को एक दूसरे के साथ जोड़कर सशक्त बनाता है। हर व्यक्ति तक घर में बना खाना पहुंचाने के उद्देश्य के साथ इस भारतीय स्टार्ट-अप की स्थापना की गई। होमफूडी की शुरूआत के बाद से इससे जुड़े शेफ की संख्या तेज़ी से बढ़ी है और आज यह संख्या 250 के आंकड़े को पार कर गई है।

होमफूडी क्लाउड किचन से अलग है, क्योंकि उनका सप्लाई इकोसिस्टम ‘होम किचन’ है, न कि ‘कमर्शियल किचन’। क्योंकि घर संभालने वाले लोग (घर में खाना बनाने वाले शेफ) बर्तनों, सब्ज़ियों, किचन की सफाई, ताज़ा भोजन पर सबसे ज़्यादा ध्यान देते हैं, इसलिए घर में बना भोजन हमेशा ज़्यादा सेहतमंद, हाइजीनिक और ताज़ा होता है। होमफूडी होम शेफ के चुनाव में बेहद ज़िम्मेदार रहा है, होमफूडी टीम हर होम शेफ के घर पर जाकर खाने की गुणवत्ता, हाइजीन और किचन की सफाई तथा पैकिंग के मानकों की जांच करती है। सभी होम शेफ 100 फीसदी एफएसएसएआई पंजीकृत हैं।

‘घर में पका खाना हाइजीनिक तरीके से पकाया जाता है, यह न केवल संतुलित आहार देता है बल्कि ज़्यादा उर्जा भी देता है। ऐसा खाना आपके तन और मन दोनों को स्वस्थ रखता है। घर में पका खाना निश्चित रूप से स्वस्थ और फिट भारत में योगदान दे सकता है।’ डॉ मोना दहिया, सह-संस्थापक एवं निदेशक, होमफूडी ने कहा।

मौजूदा महामारी के दौर में होमफूडी एक ऐसी कंपनी में बदल गई है जो हर स्तर पर नो-कॉन्टैक्ट के नियमों का पालन करती है। ब्राण्ड अपनी सभी सेवाओं का ऑनलाईन संचालन करता है कि ताकि होम शेफ एवं उपभोक्ता के बीच इंटरैक्शन कम से कम हो। होमफूडी ने सरकार द्वारा जारी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का अनुपालन करने के लिए होम शेफ, विक्रेताओं, डिलीवरी पार्टनर्स एवं कंपनी के कर्मचारियों के लिए कॉन्टैक्टलैस प्रणाली का निर्माण किया है। 

होमफूडी ने आने वाले 2 सालों में अपने प्लेटफॉर्म पर 1 लाख से अधिक होम शेफ्स के साथ भारत के 10 शहरों में मौजूदगी की योजना बनाई है। होमफूडी भारत में मोबाइल प्लेटफॉर्म के ज़रिए स्वरोजगार के अवसर उपलब्ध कराने वाला सबसे बड़ा मंच है जो होममेकर्स को होम शेफ बनने में मदद कर उन्हें सशक्त बनाता है। होमफूडी वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा देते हुए देश भर में लोगों को घर के बने खाने का अनुभव प्रदान करने के लिए तत्पर है। भारत में निर्मित इस फूड डिलीवरी ऐप्लीकेशन ने घर-घर स्टार्ट-अप का लक्ष्य तय किया है। इसके साथ हर होममेकर राष्ट्र निर्माण एवं स्वस्थ भारत के निर्माण में योगदान दे सकता है।

संस्थापक एवं निदेशक, होमफूडी, नरेन्द्र सिंह दहिया ने कहा, ‘वोकल फॉर लोकल,  हर होम शेफ को आत्मनिर्भर बनाना हमारा उद्देश्य है। नोएडा, ग्रेटर नोएडा और इंदिरापुरम से 250 से अधिक होम शेफ इस बात का प्रेरक उदाहरण हैं कि कैसे महिलाएं राष्ट्र निर्माण में योगदान दे रही हैं।’

logo
Press Release

Web Title: Indian Startup Homefoodi On-boards more than 250 Home Chefs
Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements
Advertisements

पोपुलर मोबाइल फोंस

सारे पोस्ट देखें

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार

{ DMCA.com Protection Status