Indian Army के जवान अब नहीं करेंगे PUBG Mobile, TikTok के साथ 89 एप्स का इस्तेमाल, जानें कारण

द्वारा Digit Hindi | पब्लिश किया गया 09 Jul 2020
Indian Army के जवान अब नहीं करेंगे PUBG Mobile, TikTok के साथ 89 एप्स का इस्तेमाल, जानें कारण
HIGHLIGHTS

भारतीय सेना (Indian Army) चाहती है कि उसके जवान 89 एप्स को अपने फोंस से हटा दें

इन एप्स में TikTok, Facebook, TrueCaller और Instagram से लेकर PUBG Mobile जैसे गेम और Tinder जैसे डेटिंग एप्स, Daily Hunt और सभी 'निजी ब्लॉग्स' जैसे न्यूज एप्स शामिल हैं

सरकार द्वारा प्रतिबंधित 59 चीनी ऐप्स की सूची के साथ एक बड़ा ओवरलैप है, लेकिन यह सूची और भी बड़ी है, और यह केवल चीन के ऐप्स तक ही सीमित नहीं है

Advertisements

Top reasons to buy the vivo X50 Pro smartphone

Here’s a look at what makes the vivo X50 Pro one of the best smartphones out there

Click here to know more

भारतीय सेना (Indian Army) चाहती है कि उसके जवान TikTok, Facebook, TrueCaller  और Instagram से लेकर PUBG Mobile जैसे गेम और Tinder  जैसे डेटिंग एप्स, Daily Hunt  और सभी 'निजी ब्लॉग्स' जैसे न्यूज एप्स के साथ साथ 89 एप्स को अपने फोंस में से हटा दें। इस बात की जानकारी एक रिपोर्ट से मिल रही है। इस रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना चाहती है कि किसी भी प्रकार से कोई भी जानकारी किसी भी प्रकार से लीक न हो जाए। इसी कारण सेना चाहती है कि जवान अपने फोंस से यह 89 एप्स हटा दें। आपको बता देते हैं कि डेटिंग ऐप्स जैसी श्रेणियों को इस लिस्ट में शामिल करने से पता चलता है कि सेना को केवल साइबर स्नूपिंग के बारे में चिंता नहीं है, बल्कि असली दुनिया में भी स्नूपिंग है। सरकार द्वारा प्रतिबंधित 59 चीनी ऐप्स की सूची के साथ एक बड़ा ओवरलैप है, लेकिन यह सूची और भी बड़ी है, और यह केवल चीन के ऐप्स तक ही सीमित नहीं है। इसमें अन्य कई एप्स को शामिल किया गया है, जिनका ताल्लुक चीन से भी नहीं है।

समाचार एजेंसी एएनआई के एक ट्वीट में ऐप की सूची के साथ एक पेज की तस्वीर और शीर्षक को भी शामिल किया गया है, यह 'सोशल मीडिया ऐप: बैन फ़ॉर यूज़' है। सेना के सूत्रों के हवाले से यह सामने आया है कि यह प्रतिबंध सूचनाओं के रिसाव को रोकने के लिए लगाया जा रहा है। इंडियाटीवी न्यूज की एक अन्य रिपोर्ट में कहा गया है कि सेना ने इन ऐप्स को हटाने के लिए 15 जुलाई की समय सीमा तय की है, वरना कार्रवाई का सामना भी करना पड़ सकता है। इससे पहले, टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, सेना ने अपने कर्मियों को फेसबुक का उपयोग करने की अनुमति दी थी, लेकिन वर्दी में चित्र नहीं लगाने या अपनी इकाइयों के स्थान का खुलासा करने जैसे प्रतिबंधों के साथ इसे इस्तेमाल करने की बात सामने आई थी।

इस लिस्ट में चीन के एप्स ही नहीं है लेकिन इस लिस्ट में भारत के कुछ सबसे लोकप्रिय ऐप भी  शामिल हैं, जैसे फेसबुक और इंस्टाग्राम, टिंडर और PUBG, और कुछ व्यापक श्रेणियां भी शामिल हैं जैसे कि "सभी Tencent गेमिंग ऐप्स," और "निजी ब्लॉग", इसके अलावा चीनी ऐप जो पहले से ही हैं। यहाँ आप इनके बारे में जान सकते हैं। सरकार द्वारा TikTok, SHAREit, और UC Browser जैसे एप्स को पहले ही बैन कर दिया है। सूची की शीर्षक यह भी कहती है कि ऐप्स प्रतिबंधित हैं, इसलिए यह स्पष्ट नहीं है कि फ़ेसबुक या रेडिट जैसे प्लेटफ़ॉर्म की वेबसाइटों पर भी प्रतिबंध है या नहीं - उन्हें ऐप के बजाय मोबाइल ब्राउज़र से आसानी से एक्सेस किया जा सकता है।

इसके अलावा आपको बता देते हैं कि, अमेरिकी सेना ने भी सैनिकों के TikTok के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। अमेरिकी सेना के प्रवक्ता ने यूएस-न्यूज न्यूज मिलिट्री डॉट कॉम को बताया, "यह एक साइबर खतरा है।" "हम इसे सरकारी फोन पर अनुमति नहीं दे सकते हैं।"

Indian Army ने इन 89 एप्स पर लगाया है बैन (89 Apps Banned List)

  • मैसेजिंग प्लेटफार्म

मैसेजिंग प्लेटफॉर्म्स की अगर बात करें तो इस श्रेणी में भारतीय सेना ने WeChat, QQ, Kik, ooVoo, Nimbuzz, Helo, Qzone, Share Chat, Viber, Line, IMO, Snow, To Tok, और Hike को रखा है।

  • विडियो होस्टिंग प्लेटफॉर्म

इस श्रेणी में भारतीय सेवा ने TikTok, Likee, Samosa, और Kwali को शामिल किया है, आपको बता देते हैं कि TikTok को देश में पहले ही बैन कर दिया गया है। 

अन्य एप्स जो Indian Army में हुए हैं बैन

Shareit, Xender, Zapya, UC Browser, UC Browser Mini, LiveMe, BigoLive, Zoom, Fast Films, Vmate, Uplive, Vigo Video, Cam Scanner, Beauty Plus, Truecaller, PUBG, NONO Live, Clash of Kings, All Tencent gaming apps, Mobile Legends, Club Factory, AliExpress, Chinabrands, Gearbest, Banggood, MiniInTheBox, Tiny Deal, Dhhgate, LightinTheBox, DX, Eric Dress, Zaful, Tbdress, Modility, Rosegal, Shein, Romwe, Tinder, TrulyMadly, Happn, Aisle, Coffee Meets, Bagel, Woo, OkCupid, Hinge, Badoo, Azar, Bumble, Tantan, Elite Sinles, Tagged, Couch Surfing, 360 Security, Facebook, Baidu, Instagram, Ello, Snapchat, Daily Hunt, News Dog, Pratilipi, Heal of Y, POPXO, Vokal, Hungama, Songs.pk, Yelp, Tumblr, Reddit, FriendsFeed, और Private Blogs आदि एप्स शामिल हैं।

भारत में पहले ही बैन चीनी एप्स की लिस्ट 

आपको बता देते है कि इस लिस्ट में TikTok के साथ अन्य कई चीनी एप्स को रखा गया है। इस लिस्ट में अन्य एप्स की बात करें तो इसमें Shareit, Kwai, UC Browser, Baidu map, Shein, Clash of Kings, DU battery saver, Helo, Likee, YouCam makeup, Mi Community, CM Browers, Virus Cleaner, APUS Browser, ROMWE, Club Factory, Newsdog, Beutry Plus, WeChat, UC News, QQ Mail, Weibo, Xender, QQ Music, QQ Newsfeed, Bigo Live, SelfieCity, Mail Master, Parallel Space, Mi Video Call — Xiaomi, WeSync, ES File Explorer, Viva Video — QU Video Inc, Meitu, Vigo Video, New Video Status, DU Recorder, Vault- Hide, Cache Cleaner DU App studio, DU Cleaner, DU Browser, Hago Play With New Friends, Cam Scanner, Clean Master — Cheetah Mobile, Wonder Camera, Photo Wonder, QQ Player, We Meet, Sweet Selfie, Baidu Translate, Vmate, QQ International, QQ Security Center, QQ Launcher, U Video, V fly Status Video, Mobile Legends, और DU Privacy। 

वाया:

logo
Digit Hindi

Web Title: Indian Army Jawans not going to use PUBG Mobile, TikTok and other 89 Apps here to find the reason
Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements
Advertisements

पोपुलर मोबाइल फोंस

सारे पोस्ट देखें

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार

DMCA.com Protection Status