FASTag क्या होता है? 1 दिसम्बर से होने वाला है अनिवार्य...

द्वारा Aafreen Choudhary | पब्लिश किया गया Nov 25 2019
FASTag क्या होता है? 1 दिसम्बर से होने वाला है अनिवार्य...

HONOR smart bands

Track your fitness with HONOR Band 5

Click here to know more

HIGHLIGHTS

FASTag के लिए कहां कर सकते हैं अप्लाई

नॉन-FASTag यूज़र्स को देनी होगी दोगुना फीस

2014 में FASTags को भारत में पेश किया गया था और इन प्रीपेड टैग्स का मुख्य कार्य यह है कि आपको टोल प्लाज़ा पर पेमेंट करने में समय ख़राब नहीं करना होगा, बल्कि यह ऑटोमेटिक पेमेंट कर आपके समय और फ्यूल को बचाएगा। FASTag सिस्टम रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) तकनीक का उपयोग कर के गाड़ी मालिक के अकाउंट से टोल फीस काट लेता है। एक्टिव होने के बाद टैग्स को आपकी गाड़ी की बड़ी विंडस्क्रीन पर लगा दिया जाता है।

नॉन-FASTag यूज़र्स को देनी होगी दोगुना फीस

सड़क परिवहन और हाईवे मंत्रालय MoRTH ने ऐलान किया है कि, 1 दिसम्बर 2019 से सभी नेशनल हाईवे के टोल प्लाज़ा पर डेडिकेटेड FASTag लेन चलेगी और नॉन-FASTag यूज़र्स को दोगुनी फीस देकर इस लेन से गुज़रना होगा।

FASTag सिस्टम के फ़ायदे

FASTag सिस्टम से कम समय में टोल फीस चुका कर अपना समय बचाया जा सकता है और इस तरह यह डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देता है। FASTag सिस्टम पूरी तरह लागू होने के बाद ट्रैफिक जाम को कम करने में मदद मिलेगी और बिना रस्ते में रुके ही लोग ड्राइव कर पाएंगे। आने वाले समय में सभी टोल नाकों को कैशलेस बनाया जाएगा और केवल FASTag लेन ही मौजूद रहेंगी।

FASTag के लिए कहां कर सकते हैं अप्लाई

  • Paytm app पर जाकर सर्च बार में FASTag सर्च करें और बाय FASTag विकल्प पर जाएं।
  • Paytm पर FASTag विकल्प पर जाकर आप कार, जीप या वैन के लिए फ़ास्टटैग खरीद सकते हैं।

  • यहां आप RC अपलोड कर के जो एड्रेस चुनेंगे, उस पते पर FASTag कार्ड आ जाएगा।

  • Paytm से FASTag खरीदने पर 500 रूपये अदा करने होंगे जिसमें टैग का प्राइस 100 रूपये, 250 रूपये सिक्योरिटी डिपोज़िट और 150 रूपये मिनिमम बैलेंस रखने के लिए मिलेगा।

इसके अलावा, कई बैंक भी यह सहूलियत मुहैया करा रहे हैं और आप HDFC, एक्सिस, SBI आदि कि साइट पर जाकर या पेट्रोल पंप और टोल प्लाज़ा से भी FASTag खरीद सकते हैं।

FASTag के लिए ऐसे करें अप्लाई

  • आप सभी टोल प्लाज़ा या अमेज़न, पेटीएम से FASTag खरीद सकते हैं। कुछ बैंक जैसे SBI, HDFC और ICICI ऑनलाइन इन्क्वायरी फॉर्म उपलब्ध कर रहे हैं जिसे ऑनलाइन फिल-अप करना होगा। क्वेरी जनरेट होने के बाद उपभोक्ताओं को ऑफिस विजिट करना होगा और मेंडेटरी फॉर्म के साथ ही ज़रूरी डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे जिसके बाद FASTag अकाउंट बनेगा। पेट्रोल पम्प आदि से भी FASTag खरीदा जा सकता है।
  • FASTag इशू करने के लिए आपको वेहिकल रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, KYC डॉक्यूमेंट- आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, और पासपोर्ट साइज़ फोटो रखना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन के समय Rs 200 की वन-टाइम फीस देनी होगी। इसके अलावा, एक रिफंडेबल अमाउंट भी देना होगा जो कि व्हीकल के आधार पर चार्ज किया जाएगा। इस अमाउंट को FASTag अकाउंट के क्लोज़र पर रिफंड किया जाएगा।
  • इस अकाउंट को इशू एजेंसी के वेब पोर्टल पर मैनेज किया जाएगा। इस तरह आप FASTags को डेबिट और कार्ड के साथ-साथ, RTGS, NEFT या नेटबैंकिंग से भी रिचार्ज कर सकते हैं। ऑनलाइन रिचार्ज के ज़रिए आप अपना समय बचा सकते हैं और आपको बता दें कि हर व्हीकल के हिसाब से रिचार्ज अमाउंट को निर्धारित किया गया है।
logo
Aafreen Choudhary

Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements
Advertisements

पोपुलर मोबाइल फोंस

सारे पोस्ट देखें

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार