Intel AMA
Intel AMA

देश में 5G नेटवर्क को विकसित करने में अब आएगी और भी तेजी Airtel और Intel के बीच हुई यह बड़ी साझेदारी

द्वारा Digit Hindi | पब्लिश किया गया 22 Jul 2021 | अपडेटेड इसपर 22 Jul 2021
HIGHLIGHTS
  • भारत के प्रमुख संचार समाधान प्रदाता, भारती एयरटेल (Airtel) ने आज vRAN/O-RAN प्रौद्योगिकियों का लाभ उठाकर 5G नेटवर्क विकास के लिए इंटेल के साथ साझेदारी की घोषणा की है

  • यह सहयोग भारत के लिए एयरटेल के 5G रोडमैप का हिस्सा है

  • Airtel अपने ग्राहकों को हाइपरकनेक्टेड दुनिया की पूरी संभावनाओं को प्राप्त करने की अनुमति देने के लिए अपने नेटवर्क को बदल देता है जहां उद्योग 4.0 से क्लाउड गेमिंग और वर्चुअल / संवर्धित वास्तविकता एक रोजमर्रा का अनुभव बन जाता है

देश में 5G नेटवर्क को विकसित करने में अब आएगी और भी तेजी Airtel और Intel के बीच हुई यह बड़ी साझेदारी
Jio के मुकाबले Airtel ने 5G को लेकर चला सबसे बड़ा दांव, इस दमदार स्पीड में आएगा 5G

भारत के प्रमुख संचार समाधान प्रदाता, भारती एयरटेल (Airtel) ने आज vRAN/O-RAN प्रौद्योगिकियों का लाभ उठाकर 5G नेटवर्क विकास के लिए इंटेल के साथ साझेदारी की घोषणा की है। यह सहयोग भारत के लिए एयरटेल के 5G रोडमैप का हिस्सा है क्योंकि Airtel अपने ग्राहकों को हाइपरकनेक्टेड दुनिया की पूरी संभावनाओं को प्राप्त करने की अनुमति देने के लिए अपने नेटवर्क को बदल देता है जहां उद्योग 4.0 से क्लाउड गेमिंग और वर्चुअल / संवर्धित वास्तविकता एक रोजमर्रा का अनुभव बन जाता है। एयरटेल भारत का पहला दूरसंचार ऑपरेटर है जिसने लाइव नेटवर्क पर 5G का प्रदर्शन किया है और प्रमुख शहरों में 5G परीक्षण कर रहा है।

एयरटेल व्यापक पैमाने पर 5G, मोबाइल एज कंप्यूटिंग और नेटवर्क स्लाइसिंग को रोल आउट करने के लिए एक ठोस नींव बनानेग हेतु अपने नेटवर्क में इंटेल के नवीनतम 3rd gen Xeon® स्केलेबल प्रोसेसर, FPGAs और eASICs, और ईथरनेट 800 सीरीज को तैनात करेगा। इंटरनेट यूसेज को लेकर सामने आई इस खबर को जरुर पढ़ें:

O-RAN एलायंस के सदस्य के रूप में, एयरटेल और इंटेल मेक इन इंडिया 5G समाधानों की एक सीरीज विकसित करने और स्थानीय भागीदारों के माध्यम से भारत में विश्व स्तरीय दूरसंचार बुनियादी ढांचे को सक्षम करने के लिए मिलकर काम करेंगे। ओपन रेडियो एक्सेस नेटवर्क (ओ-आरएएन) आने वाले वर्षों में जबरदस्त नवाचार और रचनात्मकता का क्षेत्र होगा। ये ओ-आरएएन प्लेटफॉर्म इंटेल फ्लेक्सरैन, सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दोनों घटकों के साथ एक संदर्भ वास्तुकला का लाभ उठाएंगे, और सॉफ्टवेयर-आधारित रेडियो बेस स्टेशनों को सक्षम करेंगे जो नेटवर्क किनारे पर स्थित सामान्य-उद्देश्य वाले सर्वर पर चल सकते हैं।

5G टेस्टिंग की भी हो चुकी है शुरुआत 

सूत्रों ने कहा कि भारती एयरटेल और उसकी फिनिश टेलीकॉम गियर निर्माता नोकिया ने लोअर परेल में मुंबई के फीनिक्स मॉल में अपने 5G फील्ड ट्रायल नेटवर्क को चालू कर दिया है और जल्द ही कोलकाता में भी इसी तरह की टेस्टिंग को अंजाम दिया जाने वाला है।

सुनील मित्तल की अगुवाई वाली टेलीकॉम कंपनी नोकिया के 5जी गियर का इस्तेमाल कर 3500 मेगाहर्ट्ज बैंड में ट्रायल कर रही है। सूत्रों ने कहा कि परीक्षणों ने अल्ट्रा-लो लेटेंसी के साथ 1 जीबीपीएस से अधिक की गति प्रदान की है। इस बात की जानकारी नोकिया इंडिया के एक स्पोकपर्सन की ओर से सामने आई है, ऐसा भी कह सकते हैं कि इस बात की पुष्टि नोकिया की ओर से ही की गई है।

दूरसंचार विभाग/ टेलीकॉम डिपार्टमेंट (डीओटी) ने हाल ही में एयरटेल को 3500 मेगाहर्ट्ज, 28 गीगाहर्ट्ज और 700 मेगाहर्ट्ज में दिल्ली/एनसीआर, मुंबई, कोलकाता और बेंगलुरु में 5जी ट्रायल स्पेक्ट्रम आवंटित किया था ताकि अगली पीढ़ी के फास्ट वायरलेस ब्रॉडबैंड तकनीक पर भारत-प्रासंगिक उपयोग के को बड़े पैमाने पर बढ़ाया जा सके। विभाग ने इसी बैंड में जियो और वोडाफोन आइडिया को भी स्पेक्ट्रम आवंटित किया था।

इस साल की शुरुआत में, एयरटेल 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में स्पेक्ट्रम का उपयोग करके हैदराबाद में एक लाइव नेटवर्क पर 5G का परीक्षण करने वाला भारत का पहला टेल्को बन गया। पर्याप्त स्पेक्ट्रम की उपलब्धता के तुरंत बाद एयरटेल का नेटवर्क देश में वाणिज्यिक 5जी सेवाएं शुरू करने के लिए पर्याप्त रूप से तैयार है।

भारत में स्टेबल 5G नेटवर्क के रोल आउट होने में बस कुछ महीने और बचे हैं। डिपार्टमेंट ऑफ टेलीकॉम (DoT) ने एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडाफोन आइडिया को भारत में 5G ट्रायल की अनुमति दे दी है। एयरटेल ने हाल ही में 5G नेटवर्क स्पीड को गुड़गाँव के साइबर हब में टेस्ट किया था। कंपनी ने अपने 5G अन्य नेटवर्क ट्रायल को 3500 MHz बैंड में ऑपरेट किया था जिसे DoT की मंजूरी दी गई थी।

अब नई रिपोर्ट से पता चला है कि जियो ने मुंबई में अपने 5G नेटवर्क की टेस्टिंग शुरू कर दी है। एक ET Telecom रिपोर्ट में बताया गया है कि मुकेश अंबानी की कंपनी मुंबई में 5G ट्रायल के लिए स्टैंडअलोन आर्किटेक्चर के साथ मिड और mm-वेव बैंड का उपयोग कर रहा है। चलिए जानते हैं मुंबई में रिलायंस जियो 5G नेटवर्क टेस्ट के बारे में...

रिलायंस जियो ने मुंबई में शुरू की 5G टेस्टिंग

रिलायंस जियो ने मुंबई में 5G टेस्ट ट्रायल शुरू कर दिया है। इससे पहले एयरटेल ने गुड़गाँव में 5G नेटवर्क ट्रायल संचालित किया था। रिपोर्ट के मुताबिक, जियो मिड और mm-वेव बैंड का उपयोग कर रहा है। कंपनी ने ट्रायल के लिए अपने 5G गियर को तैयार किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी अन्य 5G वेंडर जैसे Ericsson, Nokia, Samsung आदि से बातचीत कर रहा है जिससे अन्य शहरों में 5G ट्रायल शुरू किया जा सके। जियो पहले भी दिल्ली, मुंबई, गुजरात और हैदराबाद में ट्रायल के लिए आवेदन कर चुका है।

Digit Hindi
Digit Hindi

Email Email Digit Hindi

Follow Us Facebook Logo Facebook Logo

About Me: Ashwani And Aafreen is working for Digit Hindi, Both of us are better than one of us. Read the detailed BIO to know more about Digit Hindi Read More

Web Title: Airtel and Intel announce collaboration to accelerate 5G in India
Tags:
भारती एयरटेल भारत में 5जी नेटवर्क एयरटेल और इंटेल की पार्टनरशिप Intel bharti airtel airtel and intel collaboration for 5g 5जी नेटवर्क के लिए एयरटेल और इंटेल साथ 5G network 5g in india
Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements

LATEST ARTICLES सारे पोस्ट देखें

Advertisements
DMCA.com Protection Status