वीवो V7 Plus Review

द्वारा Hardik Singh | अपडेटेड Oct 10 2017
वीवो V7 Plus Review
  • PROS
  • अच्छा सेल्फी कैमरा
  • अच्छी बनावट
  • 18:9 डिस्प्ले
  • CONS
  • एवरेज परफॉर्मर
  • कॉल रिसेप्शन इशू

निर्णय

अब स्मार्टफोन को एक फुल पैकेज के साथ आने की आवश्यकता है, विवो अभी भी "कैमरा और म्यूजिक" को ही फोकस कर रहा है. नया विवो V7 + अच्छे फ्रंट कैमरे और शानदार ऑडियो क्वालिटी वाला फोन है. लेकिन इसकी कीमत के मुताबिक कंपनी इसकी बैटरी और परफॉर्मेंस को और बेहतर कर सकती थी.

BUY वीवो V7 Plus

Buy now on paytm उपलब्ध 13299
Buy now on flipkart उपलब्ध 15799
Buy now on amazon उपलब्ध 21300

वीवो V7 Plus detailed review

साल की शुरुआत में डुअल कैमरे को लेकर लोगों में क्रेज था, और सैमसंग गैलेक्सी S8 और एलजी G6 स्मार्टफोन के आने के बाद लोगों के बीच एज-टू-एज डिस्प्ले की मांग बढ़ गई. Vivo V7+ विवो का पहला फोन है जिसमें 24MP फ्रंट कैमरे के साथ 18:9 एस्पेक्ट रेशिओ डिस्प्ले है. इस फोन में सेल्फी फीचर्स के साथ ही DAC भी है, जो ऑडियो लवर्स को लुभाएगा.


सेल्फी कैमरा

Vivo V7+ का सेल्फी कैमरा 24MP का है. हमने अलग-अलग लाइट कंडीशन में कई सेल्फी खींचे और इन्हें आप डिसेंट तस्वीरों की कैटेगरी में रख सकते हैं. नैचुरल लाइट में खींची गई तस्वीर अच्छी आती है. इन तस्वीरों में डिटेल अच्छी आती है, कलर बैलेंस भी अच्छा होता है. हालांकि इनडोर और कम लाइट में खींची गई तस्वीरें थोड़ी नॉइसी दिखती हैं. हालांकि इस फोन से ली गई सेल्फी को आप सोशल मीडिया पर लगा सकते हैं.

(L-R) - Normal mode, Beauty mode

इस फोन में फ्रंट फेसिंग फ्लैश भी है, जिसके बारे में कंपनी का कहना है कि इससे आप मून लाइट(चांदनी रात) में भी तस्वीर ले सकते हैं.इसमें ब्यूटी मोड भी मौजूद है. इस फोन में पैनोरोमा मेथड भी मौजूद है, जिसके इस्तेमाल से आप वाइड सेल्फी क्लिक कर सकते हैं. हालांकि ये तस्वीरें सिर्फ तभी अच्छी आती हैं, जब सब्जेक्ट पूरे प्रॉसेस के दौरान एक्सप्रेशन मेंटेन रखे.

Group Selfie

रियर कैमरा

16MP का इसका रियर कैमरा फ्रंट कैमरा से बेहतर है. डे लाइट यानि दिन की रोशनी में ली गई तस्वीरें अच्छी आती है. कलर और डिटेल अच्छी होती है. हालांकि इनडोर और कम रोशनी में खींची गई तस्वीर की क्वालिटी पर थोड़ा फर्क पड़ता है लेकिन इमेज डिटेल पर ज्यादा असर नहीं दिखता. 

रियर कैमरे की दूसरी अच्छी बात यह है कि फोरग्राउंड और बैकग्राउंड के बीच अंतर इसके समकक्ष फोंस की तुलना में बेहतर लगता है..

आपको कई सारे फिल्टर का भी ऑप्शन मिलेगा. रियर कैमरा के लिए फेस ब्यूटी मोड, एक अल्ट्रा एचडी मोड का भी ऑप्शन मिलता है, औरप्रोफेशनल मोड भी मिलता है. साथ ही आपको लाइव मोड भी मिलता है, जैसा हमने आईफोन में भी देखा है.जिसमें इमेज के साथ ही 3 सेकेंड का वीडियो होता है.ये फीचर कई लोगों को पसंद आ सकता है.

बिल्ड एंड डिजाइन 

इस स्मार्टफोन में 5.99 इंच का IPS LCD डिस्प्ले मौजूद है. जो 18:9 एस्पेक्ट रेशिओ के साथ आता है. पतले बेज़ल और हाई स्क्रीन टू बॉडी रेशिओ के साथ आता है ये स्मार्टफोन. हालांकि पतले बेज़ल और स्लीम डिजाइन के साथ भी Vivo V7+ 5.5 इंच के डिवाइस से ज्यादा एर्गोनॉमिक नहीं है. वैस इसका डिस्प्ले फोन को आकर्षक बनाने में अहम रोल निभाता है. निश्चित ही 18:9 एस्पेक्ट रेशिओ के डिस्प्ले पर वीडियो देखना अच्छा अनुभव देता है.

फोन का स्क्रीन मेटल बॉडी से घिरा हुआ है, जो इसे प्रीमियम लुक देता है. ये लाइट वेट(हल्का) स्मार्टफोन है. विवो ने मेटल बॉडी के साथ एंटीना को जोड़ने का अच्छा काम किया है. हालांकि यह   Oppo F3 प्लस पर 6 स्ट्रिंग एंटीना लाइनों के समान ही दिखता है.

दाईं तरफ 2 फिजिकल बटन का मौजूद हैं.हालांकि, बटन और फिंगरप्रिंट स्कैनर थोड़ा ऊपर हैं, इस डिवाइस को एक हाथ से इस्तेमाल करना थोड़ा मुश्किल है. डिजाइन और बनावट अच्छी है. इस फोन में USB टाइप- C पोर्ट नहीं हैं और थोड़ा सा कैमरा बंप है, जो अच्छा नहीं दिखता है.

डिसप्ले और UI

जैसा कि हमने पहले ही बताया है कि इस फोन के मुख्य यूएसपी में से एक है इसका डिस्प्ले. लोअर रि़जॉल्यूशन के साथ विवो ने डिस्प्ले को बेहतर बनाने में कामयाबी हासिल की है. कलर प्रोडक्शन भी काफी अच्छा है और साथ ही टच रिस्पॉन्स भी बेहतर है. डिस्प्ले पर ऑटो ब्राइटनेश जिस तरह काम करता है, वो काफी प्रभावशाली है. ये सुपर फास्ट नहीं है लेकिन ब्राइटनेश को अच्छे से मैनेज करता है. डिस्प्ले काफी ब्राइट है, ल्यूमिनेंस करीब 700 lux है. हालांकि इसमें 18:9 पहलू अनुपात के साथ एप्लिकेशन स्केलेबिलिटी समस्या को हल करने के लिए एंड्रॉइड अभी तक पर्याप्त नहीं है, इसलिए, लगभग पुराने ऐप्स फुल स्क्रीन में ब्लैक पिलर के साथ दिखते हैं, जो 18:9 डिस्प्ले के उद्देश्य को नुकसान पहुंचाता है.

UI के मामले में ये हमेशा की तरह आईओएस से प्रेरित दिखता है. हमने पहले भी बताया है कि विवो के बारे में के लिए, यह हमेशा की तरह व्यापार होता है और सामान्य रूप से मेरा मतलब है, आईओएस प्रेरित है. विवो ने UI को जितना संभव हो उतना आईओएस के समान बनाने की कोशिश की है. 

इस फोन में सब कुछ बहुत फंक्शनल रहता है और इसका इस्तेमाल करना आसान है. शुरुआत में इस डिवाइस पर काम करने में थोड़ी दिक्कत आ सकती है लेकिन एक बार आदत हो जाने पर अन्य डिवाइस की तुलना इसका इस्तेमाल करना आसान है.

सिक्योरिटी के मामले में डिवाइस के बैक साइड में फिंगरप्रिंट स्कैनर मौजूद है. जो काफी फास्ट है. फोन में फेस रिकॉग्निजशन भी मौजूद है, जो लो लाइट में अच्छी तरह नहीं काम करता है.

परफॉर्मेंस

इस फोन के कैमरा अच्छा है. लेकिन डिजाइन को लेकर थोड़ी शिकायत है. इसके अलावा परफॉर्मेंस की बात करें तो ये काफी इंप्रेसिव नहीं है. इस फोन में क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 450 SoC है. हालांकि बेंचमार्क में ये चिप स्नैपड्रैगन 625 की तरह ही है लेकिन ये थोड़ा स्लो लगता है. इस फोन को एक हफ्ते से ज्यादा इस्तेमाल करने के बाद एनिमेशन की स्पीड स्लो नजर आती है. ये फोन 4GB रैम से लैस है. निश्चित ही ऐप्स के बीच स्विच करने के दौरान ये फास्टेस्ट डिवाइस नहीं है. 

गेमिंग के लिए भी ये डिवाइस अच्छा है. वेनग्लोरी जैसे गेम के लिए एक्सट्रा स्क्रीन स्पेस का एडवान्टेज मिलता है. जो गेम खेलने के लिए बेहतर व्यू देता है. डिवाइस पर गेम खेलने के दौरान हमने कोई बड़ी परेशानी का सामना नहीं किया. हां गेम लोडिंग में जरुर थोड़ा वक्त लगता है. 

कॉल क्वालिटी काफी अच्छी है. हालांकि इस फोन का इस्तेमाल करते हुए हमने कॉल ड्रॉप की परेशानी का सामना सामान्य की तुलना में ज्यादा किया. हमने अंडरग्राउंड पार्किंग और एकांत क्षेत्रों में कनेक्टिविटी लॉस भी देखा है. इस फोन की ऑडियो क्वालिटी की बात करें तो इस रेंज में ये एक बेहतरनी फोन है. इसमें (AK4376A) Hi-Fi ऑडियो चिप है, जिससे हेडफोन में आवाज दूसरे फोंस की तुलना में बेहतर है. 

बैटरी लाइफ

हमारे बैटरी परीक्षण में, फोन 6 घंटे और 33 मिनट की तक चला, जो आज के स्टैंडर्ड और 3225 mAh की बैटरी के मुताबिक कम है. फोन फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करता है. हालांकि ये वन प्लस और सैमसंग के A सीरीज डिवाइस की तरह तेज नहीं है.

बॉटमलाइन

Vivo V7+ एक डिसेंट फोन है, लेकिन 21,990 रूपए की कीमत में ये वो डिवाइस नहीं है, जिसे लेने की सलाह दी जाए. फ्रंट फेसिंग कैमरा अच्छा है पर ये और अच्छा हो सकता था. और यही बात रियर कैमरा के साथ भी कही जा सकती है. हां फोन का बड़ा डिस्प्ले आकर्षक है. लेकिन ये और अच्छा डिवाइस हो सकता था, अगर इसका परफॉर्मेंस थोड़ा और बेहतर होता.

तुलना

अगर आप जानना चाह रहे हैं कि ये बेस्ट सेल्फी फोन है, तो जवाब है नहीं. अगर आप सेल्फी कैमरे की तुलना करें तो Oppo F3 Plus बेहतर है. हां Asus Zenfone 4 Selfie Pro से इसे बेहतर सेल्फी कैमरे से लैस फोन कहा जा सकता है. ओवरऑल परफॉर्मेंस की बता करें तो Xiaomi Mi Max 2 इस से बढ़िया फोन है. और अगर आप अपना बजट थोड़ा बढ़ा सकते हैं तो आपके पास Oppo F3 Plus और OnePlus 3T का ऑप्शन भी मौजूद है.

Related Reviews

Tecno Camon i4 Review

इनफिनिक्स Smart 3 Plus Review

नोकिया 3.2 Review

इनफिनिक्स S4 Review

logo
Hardik Singh

Light at the top, this odd looking creature lives under the heavy medication of video games.

Advertisements
Advertisements

वीवो V7 Plus

वीवो V7 Plus

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार