वनप्लस 2 Review

द्वारा Prasid Banerjee | अपडेटेड Jun 15 2016
वनप्लस 2 Review
DIGIT RATING
81 /100
  • design

    79

  • performance

    82

  • value for money

    67

  • feature

    95

User Rating : 4.3333333333333/5 Out of 3 Reviews
  • PROS
  • अच्छा कैमरा
  • गर्म होने की समस्या नहीं
  • CONS
  • ऑक्सीजनओएस अच्छा नहीं है
  • इसकी स्क्रीन और अच्छी होनी चाहिए

निर्णय

भले ही अपने प्राइस सेगमेंट में वनप्लस 2 ने सभी को मात दी हो, लेकिन ये अपनी पुरानी जनरेशन के फोंस के मुकाबले में कहीं नहीं ठहरता है. हालाँकि इस फ़ोन में कहीं कोई हीटिंग की समय नहीं है और ये फ़ोन अच्छे से काम करता है. अगर आप एक नया फ़ोन लेने के बारे में सोच रहे हैं तो आप इस फ़ोन को ले सकते हैं, लेकिन अगर आपके पास फिलहाल एक वनप्लस वन है तो आप उसकी को इस्तेमाल कीजिए.

BUY वनप्लस 2
Buy now on amazon स्टॉक के बाहर 20999

वनप्लस 2 detailed review

एक साल पहले जब पहली बार मैंने वनप्लस वन को इस्तेमाल किया था तब मुझे लगा था की स्मार्टफ़ोन मार्किट में एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है और जैसा की हमने सोचा था ये फ़ोन मार्किट में छा गया है. लेकिन इसका नया वर्जन काफी वोरिंग है और जब मुझे वनप्लस 2 दिया गया तो मुझे इसमें कोई दिलचस्पी नहीं थी. हालाँकि ग्राहकों की इसमें काफी दिलचस्पी थी.


मैंने 2 हफ़्तों तक वनप्लस 2 को इस्तेमाल करके देखा, लेकिन इसका रिव्यु शुरू करने से पहले में कुछ बातें बताना चाहूँगा. रिव्यु पढ़ते समय इन बातों पर गौर करना.

पहली बात, इस रिव्यु को लिखने से पहले ही मेरे अंदर स्नेपड्रैगन 810 को लेकर काफी पूर्वधारणा थी, इसको मैंने एक्सपीरिया Z3प्लस में पहले ही देखा था. दूसरी बात और मुझे बड़े फोंस कुछ ज्यादा पसंद नहीं आते हैं, हालाँकि मुझे एलजी G3 अच्छा लगा. तीसरी बात, मैं बैटरी के पतले होने से ज्यादा बैटरी की परफॉरमेंस को महत्व देता हूँ. आखिर में मैं बस इतना कहूँगा की आपको इस रिव्यु से चाहे कुछ भी इम्प्रैशन मिले, लेकिन किसी भी कारण से आप अपने वनप्लस वन को वनप्लस 2 से नहीं बदलना. वनप्लस 2 भले ही एक पुराने फ़ोन का नया वर्जन है लेकिन ये अपने पुरानी जनरेशन के फोंस के सामने कहीं नहीं टिक पता है.

अगर आप अभी भी वनप्लस 2 का रिव्यु पढ़ना चाहते है तो पढ़ लीजिए...

डिज़ाइन और बनावट

The Sandstone back remains, but it's on a thin plastic plate this time.

वनप्लस 2 का बैक कवर वनप्लस वन के जैसा ही है, लेकिन इसकी क्वालिटी काफी घट गई है. इस फ़ोन को एक रिमूव होने वाली बैक देने के चक्कर में कंपनी को प्लास्टिक का इस्तेमाल करना पड़ा, जबकि वनप्लस वन में सैंडस्टोन फिनिश दी गई थी. क्वालिटी घटने से मेरा मतलब है कि वनप्लस 2 की फिनिशिंग काफी रफ़ फील होती है.

 

The USB Type-C port ensures that you have to carry your charger around all the time. Good that phones are adopting the new standard though.

वनप्लस 2 को इस्तेमाल करने पर मुझे लगा की ये काफी बड़ी है लेकिन वनप्लस वन के जैसी बढ़िया नहीं है. हालाँकि ये मुझे मोटो टर्बो की जरूर याद दिला देती है, लेकिन ये उसकी तरह पतला, भारी और इजी तो यूज़ नहीं है. ये फ़ोन हल्का तो नहीं है लेकिन ये उतना भारी भी नहीं है की इसे पसंद न किया जाए.

 

The 13MP camera on the back has a laser assisted auto-focus system this time.

वनप्लस ने एक मेटल फ्रेम को भी लगाया है और ऐसा करने के दो कारण हैं, पहला की आज कल सभी प्रीमियम फोंस में मेटल का यूज़ किया जाता है और दूसरा ताकि आप कई स्टाइल के कवर्स को इस्तेमाल कर सकें. लेकिन मुझे ये चीज़ पसंद नहीं आई, क्योंकि मुझे तो ये कम्पनी द्वारा दी गई वुड फिनिश स्टाइलवप के साथ मिसमैच लगा.

The fingerprint sensor can do more than just recognise fingerprints.

जैसा की मैंने पहले ही कहा था की मुझे बड़े फोंस पसंद नहीं है, लेकिन मुझे ये बड़ा नहीं लगा और ये आराम से मेरी जैब में फिट हो जाता था और कभी भी मुझे इसके साइज़ की वजह से कोई परेशानी नहीं हुई.

डिस्प्ले और युआई

मुझे वनप्लस 2 का डिस्प्ले अच्छा नहीं लगा. इसमें 5.5-इंच की FHD डिस्प्ले दी गई है जो को काफी शार्प है लेकिन ये धुंधली भी है. इस फ़ोन के कैमरे पर विडियो आप्शन शुरु करने पर और फ़ोन को मूव करने पर पता चलता है की इसकी डिस्प्ले का रिफ्रेश रेट कितना घट चूका है.

इसकी डिस्प्ले की तरह ही इसके युआई में भी काफी कमियां दिखाई देती है. ऑक्सीजन ओएस ठीक से काम नहीं करता है. इसके युआई और भी काफी कमियां हैं. मैंने काफी बार बिना किसी कारण के मेरा सेलुलर डाटा को ऑफ पाया. साथ ही स्क्रीन के टॉप पर जो गूगल सर्च बार है वो दिन में कम से कम एक बार तो गायब हो ही जाता था. इसका फिंगरप्रिंट सेंसर भी काफी बार फ़ैल हुआ, जब भी मैंने इसे डेस्क पर रख कर ओपन करने की कोशिश की तो ये नहीं खुला. इस फ़ोन को यूज करने पर मुझे लगा ही जैसे में किसी फ़ोन के बीटा वर्जन को इस्तेमाल कर रहा हूँ.

 

  

These are just three examples of the buggy UI. All the icons disappear (on the left), and the Google Search bar also disappears often (on the middle), and the Notifications dropdown gets stuck (on the right).

चाहे आप एक आम यूजर हैं या पॉवर यूजर है आपको इस फ़ोन में काफी खामियां दिखाई देंगी. लेकिन इसका ऑक्सीजनओएस का युआई वैसा ही है जैसा की एक कस्टम युआई को होना चाहिए. ये कोई बहुत बड़ा बदलाव नहीं है लेकिन ये फिर भी काफी सही लगा. ये कुछ-कुछ एप्पल जैसा ही है. ऑक्सीजन ओएस एंड्राइड जैसा ही है लेकिन कुछ तरह से ये थोडा अलग भी है.

 

  

(L-R) Lock Screen, Home Screen and Shelf

  

(L-R) Home Screen customisations, Multitasking screen and Quick Settings

शेल्फ स्क्रीन पर आपको वो ऐप और कॉन्टेक्ट्स दिखाई देते हैं जो अपने सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए हों, ये फीचर मुझे काफी पसंद आया. इसका हार्डवेयर बटन भी मुझे पसंद आया. अगर अपने आईफ़ोन को यूज़ किया होगा तो आपको ये बटन जरुर पसंद आयगा.

The hardware button for toggling between various interruption modes is useful. We wish it was programmable for more though.

फिंगरप्रिंट सेंसर

इसका फिंगरप्रिंट सेंसर इतना तेज़ नहीं है और डेस्क पर रखकर इसे यूज़ करने पर ये ओपन नहीं होता है. हालाँकि इसका ये फीचर काफी काम का है, लेकिन मुझे लगता है की एप्पल का आईडी ज्यादा अच्छा है.

While we think Apple's Touch ID is still a tad better, OnePlus' fingerprint sensor is pretty functional, except for some bugs.

परफॉरमेंस

इसमें स्नेपड्रैगन 810 प्रोसेसर दिया गया है और जब मैंने इसे यूज़ किया तो मुझे ये काफी धीमा लगा. वनप्लस वन के मुकाबले इसकी परफॉरमेंस 30% काम लगी. हालाँकि कितना भी इस्तेमाल करने पर ये फ़ोन गर्म नहीं होता है. ये उतना ही हीट होता है जिनता की एक स्नेपड्रैगन 810 प्रोसेसर वाले फ़ोन को होना चाहिए जो की एक साधारण बात है. मैंने 2 घंटों तक इस पर गेम्स खेले लेकिन मुझे हीट की कोई समस्या नहीं लगी.

 

OnePlus 2 Performance | Create infographics

यहाँ दो चीजें हो रही है. पहली, क्लॉक स्पीड का काम होना. दूसरी, कुलिंग पेस्ट की वजह से इसका हीट 5 से 10% तक कम हुई है. इसका मतलब ये है की अगर आप एक एयरकंडीशन रूम में हैं और आपका वनप्लस 2 गर्म हो गया है तो आप इसे एक मिनट के लिए इसे रख दें तो ये ठंड हो जाएगा. मैंने बिना एयरकंडीशन रूम वाली जगह पर भी इस पर गेम्स खेले लेकिन ये इतना हीट नहीं हुआ की मुझे कोई समस्या हुई हो.

वनप्लस 2 को उतने अंक नहीं दिए गए हैं जितने की वनप्लस वन को दिए गए थे. वनप्लस 2 पर मैंने गेम्स खेले, हालाँकि मुझे थोड़ी बहुत कमियां जरुर नज़र आई. लेकिन मुझे इसका परफॉरमेंस ठीक लगा.

इस फ़ोन में  4GB की रैम दी गई है. मैंने ऐप को ओपन किया और फिर गेम्स खेलने लगा लेकिन मैंने ये पाया की 12 घंटो के बाद भी ऐप सुस्पेंड नहीं हुई थे.

बैटरी

डिस्प्ले की तरह ही वनप्लस 2 की बैटरी भी कुछ खास नहीं है. हालाँकि ये फ़ोन पूरा दिन निकाल देगा. अगर आप इस फ़ोन पर गेम खेल रहे हैं तो इसकी आधी बैटरी एक घंटे के अंदर ही 10% पर पहुँच जाएगी.

कैमरा

वनप्लस 2 के कैमरे में लेज़र असिस्टेड ऑटो-फोकस कैमरा दिया गया है. इसका 13MP का रियर कैमरा भी वनप्लस वन के मुकाबले काफी अच्छा है. लेकिन ये एलजी G4 की तरह तेज़ी से फोकस नहीं कर पता है.

 

OnePlus 2

इसमें तस्वीरें ओपन करें पर ये वाईडिफ़ॉल्ट गूगल फोटोज पर ही तस्वीरें खोलता है. जिसपर तस्वीर ओपन करने पर वो फ़ोन थोड़ी देर के लिए फ्रिज हो जाता हैं. ऐसा ही कुछ सैमसंग के फोंस में भी होता है.

कुल मिलाकर कहें तो वनप्लस 2 का कैमरा अच्छा है. इसका कैमरा अच्छी तस्वीरें लेता है, और कम लाइट में भी ये बढ़िया तस्वीरें लेता है.

निष्कर्ष

वनप्लस वन कम कीमत में एक बहुत ही बढ़िया फ़ोन था. लेकिन अगर आप 20 से 30 हज़ार रूपये के बीच फ़ोन लेना चाहतें है तो आप वनप्लस 2 ले सकतें हैं. हालाँकि अगर आप वनप्लस वन की जगह वनप्लस 2 को लेने के बारे में सोच रहे है तो हम आपको मना ही करेंगे.

वनप्लस 2 Key Specs, Price and Launch Date

Price:
Release Date: 15 May 2017
Variant: 64GB
Market Status: Launched

Key Specs

  • Screen Size Screen Size
    5.5" (1080 x 1920)
  • Camera Camera
    13 | 5 MP
  • Memory Memory
    64 GB/4 GB
  • Battery Battery
    3300 mAh

Related Reviews

इनफिनिक्स S5 lite Review

logo
Prasid Banerjee

Trying to explain technology to my parents. Failing miserably.

Advertisements
Advertisements

वनप्लस 2

Buy now on amazon 20999

वनप्लस 2

Buy now on amazon 20999

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार

DMCA.com Protection Status