कार्बन K9 स्मार्ट Review

द्वारा Ashvani Kumar | अपडेटेड Feb 02 2016
कार्बन K9 स्मार्ट Review
  • PROS
  • डिस्प्ले ठीक ठाक है
  • डिजाईन बढ़िया है
  • गेमिंग की जा सकती है (लेकिन हैवी गेमिंग के लिए फ़ोन नहीं बना है)
  • CONS
  • ज्यादा इस्तेमाल करने पर फ़ोन गर्म होना शुरू कर देता है
  • बैटरी परफॉरमेंस ठीक नहीं है
  • फ़ोन में एंड्राइड 4.4 किटकैट है
  • कॉल परफॉरमेंस भी बढ़िया नहीं है

निर्णय

आज हर कंपनी अपने बजट स्मार्टफ़ोन में वो फीचर डालने के कोशिश करती है. लेकिन फिर भी आज सब 4K सेक्शन में उतने बढ़िया स्मार्टफ़ोन नहीं मिल पाते हैं. इस स्मार्टफ़ोन की कीमत Rs. 3,990 के आसपास है. और इस कीमत में जो भी इस स्मार्टफ़ोन में आपको जो कुछ मिल रहा है. वह काफी कहा जा सकता है. लेकिन इसके स्पेक्स के मामले में यह कतई एक बढ़िया फ़ोन नहीं कहा जा सकता है. मैंने इस स्मार्टफ़ोन को लगभग 2 हफ्ते तक इस्तेमाल किया है और मैंने पाया है कि कार्बन का ये स्मार्टफ़ोन डिजाईन के मामले में काफी बढ़िया है लेकिन बाकि मामलों में काफी पीछे रह जाता है. इस स्मार्टफ़ोन के क्या ख़ास है और क्या नहीं वह तो इसके रिव्यु के बाद ही पता चलेगा... तो आइये एक नज़र डालते हैं इस स्मार्टफ़ोन के फुल रिव्यु पर...

BUY कार्बन K9 स्मार्ट
Buy now on amazon उपलब्ध 6600
Buy now on flipkart स्टॉक के बाहर 3199

कार्बन K9 स्मार्ट detailed review

अगर आप पहली बार अपने लिए कोई स्मार्टफ़ोन लेना चाहते हैं वह भी उस कीमत में जो आप आसानी से अफोर्ड कर सकें तो आप यह स्मार्टफ़ोन ले सकते हैं क्योंकि Rs. 3,990 की कीमत में आपको एक बढ़िया डिजाईन वाला स्मार्टफोन मिल रहा है. लेकिन यह याद रखें कि आप यह स्मार्टफ़ोन केवल नार्मल इस्तेमाल के लिए ही बढ़िया कह सकते हैं. और अगर अप एक हार्डकोर स्मार्टफ़ोन यूजर हैं तो आपको कूलपैड नोट 3 लाइट स्मार्टफोन को लेना चाहिए. क्योंकि इस स्मार्टफ़ोन को लेने के लिए आपको केवल Rs. 1,000 से Rs. 2,000 रूपये ज्यादा देने होंगे और आपके हाथों में फिंगरप्रिंट सेंसर, 3GB रैम, 13MP कैमरा और शानदार फीचर वाला स्मार्टफ़ोन होगा. इसके अलावा आपके लिए 5K से नीचे आने वाले स्मार्टफ़ोन जो आपके लिए बढ़िया च्वोइस हो सकते हैं: माइक्रोमैक्स कैनवास स्पार्क, यू यूनीक, और कार्बन का ही माक़ 5 स्मार्टफ़ोन ले सकते हैं. इन स्मार्टफोंस में आपको शानदार फीचर मिल जायेंगे, और अगर आपको शानदार HD डिस्प्ले वाला कम कीमत में स्मार्टफ़ोन चाहिए तो आप कार्बन का ही S200 HD स्मार्टफ़ोन ले सकते हैं. लेकिन कार्बन के इस K9 स्मार्टफ़ोन की एक ख़ास बाद जरुर ही कि यह 21 भारतीय भाषाओँ के सपोर्ट के साथ आपको मिल रहा है. लेकिन इसमें भी कोई ज्यादा ख़ास नहीं कही जा सकती है क्योंकि माइक्रोमैक्स इस स्मार्टफ़ोन से पहले ही बाज़ार में अपनी यूनाइट सीरीज़ को उतार चुका है और अगर कैनवास यूनाइट A092 स्मार्टफ़ोन की बात करें तो यह भारतीय भाषाओँ के सपोर्ट के अलावा ट्रांसलेशन के साथ आता है... अब आपके ऊपर है कि आप Rs. 3,990 की कीमत में यह स्मार्टफ़ोन लेते हैं या कुछ पैसे और खर्च करके एक ऐसा स्मार्टफ़ोन लेना चाहेंगे जिसमें कुछ बढ़िया स्पेक्स तो हों.


इसे भी देखें: मोटोरोला मोटो X फ़ोर्स की पहली झलक

इसे भी देखें: आखिरकार भारत में लॉन्च हुआ मोटो X फ़ोर्स स्मार्टफ़ोन

डिज़ाइन और बनावट

इस स्मार्टफ़ोन में एक खास बात जो मैंने देखी वो है इसका बेक पैनल जो वनप्लस वन और 2 की तरह के ही मटेरियल से बना है और लगता भी वैसा ही है हालाँकि यह उतना सक्षम और ख़ास नहीं है जितना इन दोनों फ्लैगशिप किलर फोंस में देखने को मिलता है. लेकिन कम कीमत में आपको वैसा ही एक्स्पीरिएंस मिल जाता है. फ़ोन के बेक पैनल पर हाथ फेरने पर आपको एक शानदार प्लास्टिक पैनल मिलता है जो मैट फिनिश के साथ दिया गया है. हाँ ये हल्का जरुर है. लेकिन बढ़िया दिख रहा है. फ़ोन होल्ड करने भी काफी बढ़िया है. फ़ोन में मौजूद मैट फिनिश बेक पैनल के कारण यह आपके हाथ से फिसलता नहीं है. इसे कैरी करना भी बहुत आसान है. लेकिन अगर इसके फ्रंट डिजाईन की ओर ध्यान से देखें तो यह इस रेंज में आने वाले कुछ बजट स्मार्टफोंस की तरह ही दिखने वाला स्मार्टफ़ोन है.  

जैसा कि हमने कार्बन के पिछले स्मार्टफोंस में देखा है इस स्मार्टफ़ोन में भी डिस्प्ले के ठीक नीचे बैक, होम और मेनू में जाने के लिए स्टैण्डर्ड बटन दिया गया था, इस स्मार्टफ़ोन में उससे बिलकुल अलग तीन नेविगेशन बटन दिए गए हैं, जैसा कि आप इस तस्वीर में भी देख पा रहे होंगे. मल्टीटास्किंग करने के लिए होम बटन पर दो बार टैपिंग करनी पड़ेगी. डिस्प्ले के ऊपर ईयरपिक और 1.3 मेगापिक्सेल का फ्रंट फेसिंग कैमरा दिया गया है. फ़ोन के सीधी तरफ पॉवर और वॉल्यूम रॉकर बटन दिए गए हैं, जैसा कि हमने पिछले स्मार्टफ़ोन माक़ 5 में भी देखा था.

अब अगर फ़ोन के पिछली ओर जाकर गहनता से विचार करें तो स्मार्टफ़ोन के बैक पैनल के साथ इसकी बैटरी को भी हटाया जा सकता है. इसकी बैटरी को हटाया जा सकता है. जैसे ही आप फ़ोन के बैक कवर को फ़ोन से अलग करते हैं तो आपको दो सिम स्लॉट दिखते हैं जिसमें से एक को आप माइक्रोएसडी कार्ड के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

आखिर में अगर कुलमिलाकर डिजाईन की बात करें तो इसका डिजाईन काफी बढ़िया और सिंपल है लेकिन फ़ोन के चारों ओर गोल्डन रंग की प्लास्टिक की स्ट्रिप इसे एक अलग ही लुक प्रदान करती है और इसके कारण ही फ़ोन साधारण न लग कर कुछ ज्यादा ही अच्छा दिखाई पड़ता है. हालाँकि फ़ोन पूरी तरह से प्लास्टिक से बना है लेकिन यह अच्छा दिख रहा है. अगर इसकी कीमत को ध्यान में रखें तो डिजाईन के साथ कोम्प्रोमाईज़ किया जा सकता है.

डिस्प्ले और यूआई

जहाँ आज एप्पल ने 3D टच डिस्प्ले लाकर सभी स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले को पीछे छोड़ दिया है, वहीँ एक बजट स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले को साधारण समझा जाना लाज़मी है, लेकिन कार्बन के S200 HD  स्मार्टफ़ोन की तरह इस स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले के साथ ज्यादा कम नहीं किया गया है उस स्मार्टफ़ोन के रिव्यु के समय मैंने पाया था कि एक बजट स्मार्टफ़ोन के ऐसी डिस्प्ले कैसे हो सकती है लेकिन वाकई उस स्मार्टफ़ोन के एक बढ़िया डिस्प्ले थी लेकिन इस स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले को मैं ज्यादा बढ़िया नहीं कह सकता हूँ. क्योंकि इस फ़ोन के साथ भी मैंने लगभग उतना ही समय गुजारा है जितना मैंने पिछले स्मार्टफोंस के साथ गुजारा था लेकिन इसकी डिस्प्ले ने मुझे इम्प्रैशन नहीं किया है. फ़ोन में 5-इंच की डिस्प्ले दी गई है जिसके व्युविंग एंगल्स भी उतने बढ़िया नहीं है जितने मैं सोच रहा था. ब्राइटनेस बिलकुल कम देने पर भी फ़ोन में सब ठीक से तो दिखाई देता है लेकिन उतना प्रभावशाली नहीं है, जितना पहले स्मार्टफ़ोन था. हालाँकि फ़ोन के ब्राइटनेस आप्शन को जब मैंने ओपन किया तो एक ऑटो ब्राइटनेस पर विचार पाया जो शायद बजट स्मार्टफोंस में देखने को नहीं मिलता है. फ़ोन की डिस्प्ले सूरज की तेज़ रोशनी में भी उतनी प्रभावी नहीं है. हालाँकि इस बजट में इसे ज्यादा बुरी डिस्प्ले भी नहीं कहा जा सकता है. एक ऐसे ग्राहक के लिए जो पहली बार एक स्मार्टफ़ोन ले रहा है ये एक शानदार स्मार्टफ़ोन के रूप में देखा जाना चाहिए. फ़ोन में टाइपिंग के दौरान टच की समस्या आती है. जो इस बजट में आने वाले हर स्मार्टफ़ोन में देखने को मिलती ही है.

हाँ, दूसरी ओर अगर आप स्मार्टफ़ोन की डिस्प्ले के रंगों की बात करते हैं तो यह काफी काफी ब्राइट हैं, और देखने के आँखों को चुभते नहीं है. विडियो चलाने पर और उससे थोड़ी छेड़छाड़ करने पर भी मैंने देखा कि फ़ोन ज्यादा परेशान करता है, एचडी विडियो इस स्मार्टफ़ोन के उतनी बढ़िया तरह से सुपोर्ट नहीं करती है. गेमिंग के दौरान भी स्मार्टफ़ोन काफी जल्दी गर्म होने लगता है और लगता है कि अभी यह फट जाएगा. गर्म होने की ज्यादा ही समस्या मैंने इस स्मार्टफ़ोन के पाई है. लेकिन इस कीमत में इस तरह की डिस्प्ले का होना सच में बढ़िया कहा जा सकता है.

अगर इसके यूआई की बात करें तो वह भी आजकल के स्मार्टफ़ोन में दिख रहे यूआई से ज्यादा बढ़िया नहीं है, एक औसत यूआई के साथ ही इस स्मार्टफ़ोन को बाज़ार में उतारा गया है. लेकिन कीमत के लिहाज़ से इस यूआई को भी अच्छा कहा जा सकता है. फ़ोन में एंड्राइड 4.4 किटकैट ऑपरेटिंग सिस्टम दिया गया है जो मुझे ठीक नहीं लगा क्योंकि इस स्मार्टफ़ोन से पहले भी कई स्मार्टफोंस एंड्राइड 5.0 और 5.1 लोलीपॉप के साथ लॉन्च किये जा चुके हैं. अगर इस स्मार्टफ़ोन में एंड्राइड का यही वर्ज़न होता तो स्मार्टफ़ोन की मार्केट वैल्यू और बढ़ जाती लेकिन अगर कंपनी इसे एंड्राइड लोलीपॉप के साथ अपग्रेड करें तो इस स्मार्टफ़ोन का भविष्य बजट स्मार्टफोंस में देखा जा सकता है. स्मार्टफ़ोन आपको पहले से ही कुछ प्री-लोडेड ऐप्स के साथ मिलता है. साथ ही इसमें कुछ सेंसर्स भी हैं.

इसे भी देखें: मोटोरोला मोटो X फ़ोर्स की पहली झलक

इसे भी देखें: जनवरी में लॉन्च हुए 10 सबसे शानदार स्मार्टफोंस, फीचर्स है सबसे अलग

परफॉरमेंस

इस स्मार्टफ़ोन में 1.2 GHz क्वाड-कोर प्रोसेसर दिया गया है, इसके साथ ही आपको स्मार्टफ़ोन में 512MB की रैम भी मिल रही है. परफॉरमेंस को देखते हुए स्मार्टफ़ोन की ब्राउज़िंग बढ़िया नहीं है, इसके अलावा आप इसमें एचडी गेमिंग तो कर ही नहीं सकते हैं हालाँकि आप इसमें गेमिंग कर सकते हैं लेकिन हैवी गेमिंग के लिए यह स्मार्टफ़ोन नहीं बना है और न ही यह उतनी बढ़िया परफॉरमेंस दे पाता है. जैसा कि मैं पहले ही कह चूका हूँ कि फ़ोन बहुत जल्दी गरम हो जाता है. अब अगर इसके बेंचमार्क स्कोर्स के भी बात करें तो स्मार्टफ़ोन के स्कोर्स उतने बढ़िया नहीं हैं, कुछ बेंचमार्क्स तो इस स्मार्टफ़ोन पर चले भी नहीं है. लेकिन अपनी कीमत के हिसाब से यह (नार्मल इस्तेमाल) में बढ़िया काम करता है. और कुल मिलाकर अगर कहें तो इसे एक बढ़िया परफ़ॉर्मर नहीं कहा जा सकता है.

स्मार्टफ़ोन पर कुछ देर की गेमिंग के बाद मैंने पाया कि यह बहुत ही जल्दी गर्म हो जाता है. और बहुत ही ज्यादा गर्म हो जाता है. लेकिन अगर इसके बाद भी देखें तो रोजाना के आम इस्तेमाल में यह काफी बढ़िया स्मार्टफोन है और इसे एक आम इस्तेमाल करने वाले यूजर के लिए काफी शानदार फ़ोन कहा जा सकता है. फ़ोन की कॉल क्वालिटी भी बढ़िया नहीं है इसके स्पीकर की वॉल्यूम फुल कर देने पर फ़ोन पर बात करते हुए इसकी आवाज़ बाहर आना शुरू कर देती है. जो मुझे सही नहीं लगा. फोन एके कुछ जरुरी बेंचमार्क्स इस प्रकार है:

Karabonn K9 Smart
Create bar charts

 

कैमरा

फ़ोन में दिए गए कैमरा की अगर चर्चा करें तो इस स्मार्टफ़ोन में 3.2  मेगापिक्सेल का रियर कैमरा के साथ 1.3 मेगापिक्सेल का फ्रंट फेसिंग कैमरा भी दिया गया है. इस स्मार्टफ़ोन में दिया गया कैमरा दिन की रौशनी में और फ्लोरोसेंट लाइट में भी सही प्रकार से कम नहीं करता है तो रात में ये कैसा काम करेगा आप अपने आप ही अंदाज़ा लगा सकते हैं. हाँ अगर बहुत ज्यादा रौशनी में आप इस स्मार्टफ़ोन के कैमरा से फोटो लेते हैं तो आपको बढ़िया फोटो लेता है. लेकिन इससे कम रौशनी में ली गई तस्वीर उतनी अच्छी नहीं है, जैसा कि मैं पहले भी बता चुका हूँ. हालाँकि शार्पनेस की कमी जरुर देखने को मिली है लेकिन कीमत को देखते हुए स्मार्टफ़ोन में बढ़िया कैमरा दिए गए हैं. फ़ोन के दोनों ही कैमरा अच्छे नहीं है लेकिन अगर अप कैमरा के साथ कोम्प्रोमाईज़ कर सकते हैं तो आपको इस स्मार्टफ़ोन की ओर जाना चाहिए. इसके अलावा अगर कुछ ज्यादा कीमत वाले श्याओमी के रेड्मी 2 से इसकी तुलना करें तो इसका कैमरा काफी पीछे रह जाता है. मैंने इसके कैमरा के साथ कई एक्सपेरिमेंट किये हैं, लेकिन इसके कैमरा ने मुझे प्रभावित नहीं किया है, हालाँकि अगर मैं इसकी कीमत को ध्यान में रखूं तो कैमरा के साथ कोम्प्रोमाईज़ करना जरुरी हो जाता है.

स्मार्टफ़ोन के कैमरा से ली गई कुछ तसवीरें अप यहाँ देख सकते हैं:

      

बैटरी

इस स्मार्टफ़ोन में 2300mAh क्षमता वाली बड़ी बैटरी है, इसके अलावा हमने कार्बन के ही माक 5 में 2200mAh क्षमता वाली बैटरी देखी है. अगर इसकी परफॉरमेंस पर नज़र डालें तो यह बैटरी समान्य कॉल्स, मैसेजिंग, ब्राउज़िंग और म्यूजिक चलाने के बाद लगभग एक दिन तक काम करने में सक्षम है. हमारे बैटरी टेस्ट में इस बैटरी ने 5 घंटे तक सही प्रकार काम किया. लेकिन फ़ोन की बैटरी को उतना बढ़िया नहीं कहा जा सकता है. अगर इसकी तुलना बाकि स्मार्टफोंस से करें तो, इसके साथ ही आपको बता दें कि रेड्मी 2 में 2200mAh क्षमता वाली बैटरी है. कुलमिलाकर पूरी तरह चार्ज करने पर यह एक पूरा दिन काम कर सकती है. इसके साथ ज्यादा इस्तेमाल करने पर इस स्मार्टफ़ोन की बैटरी बहुत जल्दी से ही ख़त्म होने लगती है. यह एक अच्छा संकेत नहीं कहा जा सकता है. हालाँकि बैटरी के जल्दी ख़त्म होने की समस्या हर स्मार्टफ़ोन में रहती है फिर चाहे वह काफी महंगा ही क्यों न हो लेकिन बैटरी का इतना जल्दी से ख़त्म होना एक स्मार्टफ़ोन के लिए अच्छा नहीं माना जाता है. कुलमिलाकर कहें तो स्मार्टफ़ोन में उतनी बढ़िया बैटरी नहीं है.

इसे भी देखें: अब बिना इनवाइट के उपलब्ध होगा वनप्लस X स्मार्टफ़ोन

इसे भी देखें: कंपनी की साइट पर लिस्ट हुआ माइक्रोमैक्स कैनवास जूस 4

निष्कर्ष

कुलमिलाकर  Rs. 4,000 की कीमत के यह एक बढ़िया फ़ोन है. इस फ़ोन में आपको 512MB रैम, औसतडिस्प्ले और औसत ही बैटरी बैटरी बैकअप भी मिल रहा है. हालाँकि इसका टच ठीक से काम नहीं करता है. लेकिन फिर भी इसके बाकी फीचर्स और स्पेसिफिकेशन्स को देखते हुए यह (इस बजट में) एक बढ़िया स्मार्टफ़ोन है. इससे कुछ ज्यादा कीमत में अगर देखें तो आपको लेनोवो का A2010 और यू का यूनीक स्मार्टफ़ोन मिल जाता है. इसके साथ ही यहाँ ये बताना भी जरुरी हो जाता है कि यू का यूनीक एक ऐसा स्मार्टफ़ोन है जो Rs. 4,990 की कीमत में अब तक सबसे सस्ता 4G फ़ोन है. इसके अलावा अगर आप अपना बजट थोड़ा और बढ़ा देते हैं तो आपके पास कई और चॉयस हैं, जैसे आप मोटो E या माइक्रोमैक्स कैनवास एक्सप्रेस 2 भी आप ले सकते हैं. हालाँकि एक्सप्रेस 2 में 1GB रैम मिलती है लेकिन यह बढ़िया से काम करता है. इसके अलावा अगर आपको बढ़िया इंटरनल स्टोरेज वाला की स्मार्टफ़ोन चाहिए तो आप कार्बन के ही माक 5 को ले सकते हैं.

Related Reviews

नोकिया 3.2 Review

इनफिनिक्स S4 Review

कूलपैड Cool 5 Review

logo
Ashvani Kumar

Ashvani Kumar is Tech, Politics, and Sports lover.

Advertisements
Advertisements

कार्बन K9 स्मार्ट

कार्बन K9 स्मार्ट

Digit caters to the largest community of tech buyers, users and enthusiasts in India. The all new Digit in continues the legacy of Thinkdigit.com as one of the largest portals in India committed to technology users and buyers. Digit is also one of the most trusted names when it comes to technology reviews and buying advice and is home to the Digit Test Lab, India's most proficient center for testing and reviewing technology products.

हम 9.9 लीडरशिप के तौर पर जाने जाते हैं! भारत की एक अग्रणी मीडिया कंपनी के निर्माण और प्रगतिशील उद्योग के लिए नए लीडर्स को करते हैं तैयार