नया मैलवेयर एंड्रायड यूजर्स का वित्तीय डेटा चुरा रहा: क्विक हील

द्वारा IANS | पब्लिश किया गया 13 Jun 2018
HIGHLIGHTS
  • भारत में दो नए परिष्कृत एंड्रायड बैंकिंग ट्रोजन वायरसेज मोबाइल यूजर्स के व्यवहार की निगरानी कर रहे हैं तथा उनके गोपनीय डेटा तक पहुंच हासिल कर रहे हैं।

नया मैलवेयर एंड्रायड यूजर्स का वित्तीय डेटा चुरा रहा: क्विक हील

भारत में दो नए परिष्कृत एंड्रायड बैंकिंग ट्रोजन वायरसेज मोबाइल यूजर्स के व्यवहार की निगरानी कर रहे हैं तथा उनके गोपनीय डेटा तक पहुंच हासिल कर रहे हैं। वैश्विक आईटी सुरक्षा फर्म क्विक हील ने मंगलवार को यह चेतावनी दी है। क्विल हील सिक्यूरिटी लैब के सुरक्षा विशेषज्ञों ने 'एंड्रायड.मार्चर.सी' और 'एंड्रायड.एसकब.टी' नाम के दो ट्रोजन की पहचान की है, जो वाट्स एप, फेसबुक, स्काइप, इंस्टाग्राम और ट्विटर जैसे सोशल एप्लिकेशंस के अवाला कुछ प्रमुख बैंकिंग एप्स के नोटिफिकेशन का अनुकरण करता है। 

शोधकर्ताओं ने चेतावनी दी है कि एडिमिनिस्ट्रेटिव विशेषाधिकार के माध्यम से इनकमिंग मैसेजों तक पहुंच हासिल करने ये मॉलवेयर हैकरों को टू-फैक्टर ऑथेंटिकेसन को बाइपास करने में सक्षम बनाते हैं। ऑनलाइन लेनदेन में सुरक्षा के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेसन का इस्तेमाल किया जाता है। 

क्विक हील टेक्नॉलजीज लि. के सह-संस्थापक और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी संजय काटकर ने कहा, "भारतीय यूजर्स अक्सर थर्ड-पार्टी एप स्टोर्स और एसएमएस और ईमेल से भेजे गए लिंक के माध्यम से असत्यापित एप डाउनलोड करते हैं। इससे हैकर को यूजर्स से गोपनीय जानकारी चोरी करने का अवसर प्रदान करता है।"

उन्होंने कहा, "छह महीनों से भी कम समय में हमने इस प्रकार के तीन मैलवेयर की पहचान की है।"

logo
IANS

Indo-Asian News Service

email

Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements

LATEST ARTICLES सारे पोस्ट देखें

Advertisements
DMCA.com Protection Status