अब कैश रखने का झंझट ख़त्म, PM Modi लॉन्च किया e-Rupi डिजिटल पेमेंट, कैसे करता है काम?

Ashwani Kumar द्वारा | पब्लिश किया गया 02 Aug 2021 18:13 IST
HIGHLIGHTS
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इलेक्ट्रॉनिक वाउचर (Electronic Voucher) आधारित डिजिटल भुगतान प्रणाली (Digital Payment System) e-RUPI लॉन्च किया है

  • e-RUPI डिजिटल भुगतान (Digital Payment) के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित साधन है

  • यह एक क्यूआर कोड (QR Code) या एसएमएस स्ट्रिंग के माध्यम से लाभार्थियों के मोबाइल फोन पर पहुंचा दिया जाता है

अब कैश रखने का झंझट ख़त्म, PM Modi लॉन्च किया e-Rupi डिजिटल पेमेंट, कैसे करता है काम?
अब कैश रखने का झंझट ख़त्म, बिना कांटेक्ट के ही हो जाएगा लेनदेन; PM Modi लॉन्च किया e-Rupi डिजिटल पेमेंट, कैसे करता है काम?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इलेक्ट्रॉनिक वाउचर (Electronic Voucher) आधारित डिजिटल भुगतान प्रणाली (Digital Payment System) e-RUPI लॉन्च किया है। e-RUPI  डिजिटल भुगतान (Digital Payment) के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित साधन है। यह एक क्यूआर कोड (QR Code) या एसएमएस स्ट्रिंग के माध्यम से लाभार्थियों के मोबाइल फोन पर पहुंचा दिया जाता है। इसे भी पढ़ें: अपनी दमदार बैटरी के लिए जाने जाते हैं ये स्मार्टफोंस, Rs 15000 से भी कम है कीमत

इस नए एकमुश्त भुगतान तंत्र (One Time Payment mechanism) के उपयोगकर्ता सेवा प्रदाता पर कार्ड, डिजिटल भुगतान ऐप (Digital Payment App) या इंटरनेट बैंकिंग एक्सेस (Internet Banking Access) के बिना वाउचर को भुनाने में सक्षम होंगे।  इसके अलावा आपको यह भी बता देते है कि इस सिस्टम को National Payment Corporation of India (नेशनल पेमेंट कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया) की ओर से निर्मित किया गया है। इसके अलावा इसमें इसका साथ डिपार्टमेंट ऑफ़ फाइनेंसियल सर्विसेज (Department of financial services), हेल्थ मिनिट्री (health ministry) और नेशनल हेल्थ अथॉरिटी (national health authority) ने भी दिया है। कुलमिलाकर इसका निर्माण इन सभी संस्थाओं ने किया है। इसे भी पढ़ें: क्या है Reliance Jio का Buy One Get One Offer, 39 रुपये की शुरूआती कीमत में कैसे उठाएं डबल डेटा लाभ

पीएमओ (PMO) ने हाल ही में एक बयान में कहा कि e-RUPI का उपयोग आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य जैसी योजनाओं के तहत मातृ एवं बाल कल्याण योजनाओं, टीबी उन्मूलन कार्यक्रमों, दवाओं और निदान के तहत दवाएं और पोषण संबंधी सहायता प्रदान करने के लिए योजनाओं के तहत सेवाएं देने के लिए किया जा सकता है। इसे भी पढ़ें: रातों रात बन जायेंगे फेसबुक पर सेलेब्रिटी स्टार (Celebrity Star) बस करना होगा ये काम, पढ़ें डिटेल में

कैसे इस्तेमाल करें e-Rupi वाउचर (e-Rupi Voucher)

इन e-Rupi वाउचर को आप एक इ-गिफ्ट कार्ड (e-gift Card) के तौर पर देख सकते हैं, जो अपने नेचर के हिसाब से प्रीपेड (Prepaid) है। इस कोड (Code) को आप किसी भी एक मैसेज या (SMS) के माध्यम से शेयर कर सकते हैं, हालाँकि इसके अलावा आप QR Code को भी शेयर कर सकते हैं। यह ई-वाउचर (e-voucher) एक पर्सन या पर्पस पर आधारित है। उदाहरण के लिए अगर आपके पास एक e-Rupi वाउचर है, जो आपके पास Covid-19 वैक्सीन के लिए है तो आपको बता देते है कि आप इसका इस्तेमाल मात्र वैक्सीन के लिए ही कर सकते हैं। इसे भी पढ़ें: कैसे Aadhaar Card में बदलें मोबाइल नंबर और ऑनलाइन कैसे करें डाउनलोड

कैसे अन्य ऑनलाइन पेमेंट (Online Payment) एप्लीकेशन्स से अलग है e-Rupi वाउचर?

ई-रुपी कोई प्लेटफॉर्म नहीं है। यह विशिष्ट सेवाओं के लिए एक वाउचर है। e-Rupi वाउचर एक पर्पस स्पेसिफिक है और भले ही किसी के पास बैंक खाता या डिजिटल भुगतान ऐप या स्मार्टफोन न हो, आप इस वाउचर का और इससे लाभ उठा सकते हैं। यही सबसे बड़ा अंतर e-Rupi और अन्य डिजिटल प्लेटफार्म में है। इसे भी पढ़ें: आपके घर के पास ही अपडेट हो जाएगा Aadhaar Card, कैसे जानें निकटतम आधार सेंटर का पता

इन वाउचर का इस्तेमाल ज्यादातर स्वास्थ्य संबंधी भुगतानों के लिए किया जाएगा। कॉरपोरेट अपने कर्मचारियों के लिए ये वाउचर जारी कर सकते हैं। केंद्र ने पहले कहा था कि वह वैक्सीन ई-वाउचर के लिए एक विकल्प लाएगा, जहां कोई निजी अस्पताल में टीकाकरण के लिए ई-वाउचर खरीद सकता है और दूसरे को उपहार में दे सकता है। e-Rupi  उसी का एक बड़ा और विस्तृत रूप लगता है। इसे भी पढ़ें: Vodafone Idea यूजर्स को मिल रहा है डबल डेटा, देखें किन प्लान्स पर लागू है स्कीम

e-Rupi की एक खासियत और है कि वह व्यक्ति जो वाउचर खरीद रहा है और उन्हें दूसरों को दे रहा है, या गिफ्ट कर रहा है, वह वाउचर के उपयोग को ट्रैक कर सकता है। इसकी एक बड़ी खासियत के तौर पर इसे भी देखा जा रहा है। गोपनीयता एक और मुद्दा है क्योंकि लाभार्थियों को अपना व्यक्तिगत विवरण साझा नहीं करना होगा। इसे भी पढ़ें: Vodafone Idea यूजर्स को मिल रहा है डबल डेटा, देखें किन प्लान्स पर लागू है स्कीम

कैसे रीडिम करें e-Rupi वाउचर 

e-Rupi वाउचर का लाभ उठाने के लिए किसी कार्ड या वाउचर की हार्ड कॉपी की जरूरत नहीं है। मैसेज के जरिए मिला क्यूआर कोड ही इसके लिए काफी है।

e-Rupi पर कार्य करने वाले बैंक्स की लिस्ट 

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के अनुसार, आठ बैंक पहले से ही ई-रुपी (e_Rupi) के साथ एक्टिव हैं, जिनमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India), एचडीएफसी (HDFC Bank), एक्सिस (Axis Bank), पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank), बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda), केनरा बैंक (Canara Bank), इंडसइंड बैंक (Indusind Bank), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) शामिल हैं। 

तकनीकी से जुड़ी सभी खबरों, प्रोडक्ट रिव्यू, साइंस-टेक फीचर और टेक अपडेट्स के लिए डिजिट.इन पर जाएँ या हमारे गूगल न्यूज पेज पर क्लिक करें।

Ashwani Kumar
Ashwani Kumar

Email Email Ashwani Kumar

Follow Us Facebook Logo Facebook Logo Facebook Logo Facebook Logo

About Me: अश्वनी कुमार डिजिट हिन्दी में पिछले 7 सालों से काम कर रहे हैं! वर्तमान में अश्वनी कुमार डिजिट हिन्दी के साथ सहायक-संपादक के तौर पर काम कर रहे हैं। Read More

WEB TITLE

PM Modi launched e-rupi digital payment system how it works

Advertisements

ट्रेंडिंग टेक न्यूज़

Advertisements

लेटेस्ट लेख सारे पोस्ट देखें

VISUAL STORY सारे पोस्ट देखें